ICSE का फुलफॉर्म और अर्थ क्या होता हैं?

हम सभी ने कभी न कभी ICSE के बारे मे सुना जरूर हैं, मगर क्या आपको इसके बारे में पूरी जानकारी हैं? अगर नहीं तो मैं आपको बता दू इस लेख मे आपको इसके बारे मे पूरी जानकारी दी जाएगी। 

अगर आपने सुना हैं की ICSE क्या होता हैं, और इसके बारे मे कुछ जानकारी पता भी हैं तो इस लेख को पढिए क्यूंकी आपको एक से बेहतर एक ICSE के बारे मे जानकारी दी जाएगी। 

पूरी जानकारी के लिए इस लेख को अंत तक पढ़िए। तो अब बिना किसी देरी के जानते हैं की ICSE क्या हैं। 

ICSE का फुलफॉर्म क्या होता हैं?

सबसे पहले इसका फुलफॉर्म जान लेते हैं, ICSE का फुलफॉर्म Indian Certificate of Secondary Education होता हैं। इसे हिन्दी मे इंडियन सर्टिफिकेट ऑफ सैकेण्डरी एजुकेशन भी कहा जाता हैं। 

ICSE का फुलफॉर्म
ICSE का फुलफॉर्म

ICSE होता क्या हैं?

ICSE भारत का एक शिक्षा बोर्ड हैं, इसमें आयोजित होने वाली परीक्षा CISCE के द्वारा होती हैं, CISCE का मतलब Council For The Indian School Certificate Examinations होता हैं।  CISCE भारत का एक प्राइवेट, गैर सरकारी एजुकेशन बोर्ड हैं। 

इस बोर्ड को 1956 मे Anglo-Indian Education की एक अन्तर्राज्यीय बैठक मे organized किया गया था। अब इसका headquarter नई दिल्ली मे हैं। 

इस बोर्ड को भारत की नई शिक्षा नीति 1986  की सिफारिश पर स्थापित किया गया था। इसमे आयोजित होने वाली सभी परीक्षा सिर्फ अंग्रेजी मे होती हैं। 

इसमे सभी पेपर जिनके अलग अलग विषय होते हैं, उनके अंकों को सभी पेपर के साथ ही कैल्क्युलेट किया जाता हैं। जो भी विद्यार्थी परीक्षा मे भाग लेते हैं उन्हें 6 विषयों की तैयारी करनी पड़ती हैं , सभी विद्यों को 1-3 पेपर भाग मे बाटा जाता हैं, इस तरह  मिलाकर कुल 8-11 विषय हो जाते हैं। 

ICSE की स्थापना कब हुई?

1958 में Cambridge University की मदद से परीक्षा आयोजन करने के लिए और प्रशासन के लिए हुआ। जब 1967 मे इसे Society Registration Act की मदद से दर्ज किया गया। फिर 1986 मे नई शिक्षा प्रणाली आई, इसके अनुसार भारत मे परीक्षा अंग्रेजी मे कर दिया गया। 

ICSE की विशेषताएं

अगर बात करे ICSE की विशेषताएं तो इसमे बहुत फर्क हैं अन्य किसी भी बोर्ड से, इसके विशेषताएं कुछ इस प्रकार हैं। 

  1. इसके माध्यम से विद्यार्थी को सभी तरह के ज्ञान दिया जाता हैं। 
  2. इसमे विषयों को चुनने के लिए एक विस्तृत श्रृंखला है। 
  3. इसका पाठ्यक्रम विशाल और विस्तार मे हैं। 
  4. इसका पाठ्यक्रम अलग अलग अवधारणाओं और व्यावहारिक ज्ञान पर आधारित हैं। 
  5. इसमे विद्यार्थियों को अंग्रेजी सिखाने पर ज्यादा बल दिया जाता हैं। 
  6. कोई भी निजी उम्मीदवार इसमे परीक्षा के लिए उपस्थित नहीं हो सकते। 

ICSE बोर्ड के लाभ 

इस बोर्ड के बहुत सारे लाभ हैं जैसे – 

  • ये बच्चों के समस्त विकास पर केंद्रित हैं। 
  • सभी पाठ्यक्रम के समान महत्व हैं । 
  • ये विषयों को चुनने मे लचीलापन प्रदान करता हैं। 
  • ये अंग्रेजी के साथ साथ सभी विषयों मे छात्र को ज्ञान से पूर्ण करता हैं। 
  • ये दुनिया भर के सभी स्कूल और कॉलेज से स्वीकृत हैं। 
ICSE और CBSE मे अंतर 

भारत के ये दोनों शिक्षा बोर्ड सभी छात्रों के लिए बेहतर हैं, अगर इन दोनों मे अंतर तलाश करे तो ये कुछ इस प्रकार आएंगे। 

  1. CBSE को केन्द्रीय सरकार के द्वारा संचालित किया जाता हैं। ये भारत सरकार के अधीन आता हैं। इसका उदेश्य शिक्षा को बढ़वा देना हैं। वही ICSE राष्ट्र अस्तर की एक निजी बोर्ड हैं। 
  2. इसका उद्देश्य बच्चों की शिक्षा मे गुणवत्ता लाना, और सेवा की भावना लाना हैं, वही CBSE बच्चों को सांस्कृतिक विकास के छेत्र मे काम करती हैं। बच्चों के चरित्र और बुद्धि के लिए हैं। 

अन्य उपयोगी फुल फॉर्म विषय हिंदी में :-

  1. PIN Full Form
  2. UPI Full Form
ICSE के अनिवार्य विषय। 

ICSE के विषयों को अलग अलग भाग मे बाटा गया हैं। इसमे group 1, group 2, group 3 आते हैं। 

group 1 मे जो विषय हैं वो कुछ इस प्रकार हैं। 

1) English 

2) Second Language

3) History/Civics & Geography

4) Science Application 

group 2 मे आने वाले विषय 

1) Mathematics

2) Science (Physics, Chemistry, Biology) 

3) Commercial Studies 

4) Economics

5) Environmental Science 

6) A Modern Foreign Language 

7) A Classical Language

group 3 मे आने वाले विषय 

1) Computer Applications

2) Technical Drawing

3) Drama

4) Art 

5) Dance

6) Yoga 

7) Hindustan Music 

8) Carnatic Music

9) Instrumental Music

10) Physical Education

11) Economic Applications

12) Commercial Applications 

13) Mass Media And Communication 

14) Modern Foreign Language

15) Environmental Applications 

16) Cookery

17) Performing Arts 

CLASS XI और XII के लिए विषय – 6 के चुनाओ 

1) Compulsory English

2) English Literature

3) Indian Language

4) Modern Foreign Language

5) Classical Language

6) History

7) Political Science

8) Geography

9) Psychology

10) Sociology

11) Economics

12) Commerce

13) Accounting

14) Business Studies

15) Mathematics

16) Physics

17) Chemistry

18) Biology

19) Biotechnology

20) Physical Education

21) Home Sciences Or Home Economics

22) Fashion Design

23) Electronics

24) Engineering Physics

25) Computer Science

26) Geometrical And Mechanical Drawing

27) Geometrical And Building Drawing

28) Art

29) Hindustani Classical Music

30) Carnatic Music

31) Environmental Science

32) Socially Useful Productive Work

ICSE से जुड़े अन्य सवाल

FAQ – ICSE Ka Full Form

Q. 1.ICSE क्या है?

Ans. ICSE CISCE से संबद्ध स्कूलों के कक्षा 10 के छात्रों के लिए एक बोर्ड परीक्षा है। यह काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन द्वारा प्रतिवर्ष आयोजित किया जाता है।

Q. 2.क्या आईसीएसई एक अंतरराष्ट्रीय बोर्ड है?

Ans. ICSE भारत में दी जाने वाली एक राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा है जबकि IGCSE एक अंतरराष्ट्रीय मानक पाठ्यक्रम है।

Q. 3.क्या ICSE को USA में मान्यता प्राप्त है?

Ans. ICSE को राष्ट्रीय और विश्व स्तर पर मान्यता प्राप्त हैं।

Q. 4.Software मे ICSE का मतलब क्या हैं?

Ans. SOFTWARE मे ICSE का मतलब International Conference on Software हैं।

Q. 5.Music मे ICSE का मतलब क्या हैं?

Ans. MUSIC मे ICSE का मतलब Imperial College String Ensemble हैं।

दोस्तों ये थी पूरी जानकारी ICSE के बारे मे, आशा हैं आपको समझ आया होगा, अगर आपका कोई सवाल हैं तो comment कीजिए। 

इसके साथ अगर आपको लगता हैं ये लेख आपके दोस्तों या रिश्तेदारों को काम या सकती हैं तो इसे शेयर जरूर करे। जय हिन्द।

अन्य उपयोगी फुल फॉर्म विषय हिंदी में :-

  1. NCB Full Form
  2. Full Form FIFA

Leave a Reply