CBSE का फुल फॉर्म क्या है? | CBSE परिभाषा और अर्थ in Hindi

भारत में कई सारी board हैं शिक्षा के लिए, उसमें एक बोर्ड है CBSE board हैं, जो शिक्षा के लिए बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण है । 

हम सभी ने CBSE के बारे मे सुना है, मगर क्या हम सीबीएसई के बारे मे सब कुछ जानते हैं? अगर नहीं तो ये आर्टिकल उन सभी लोगों के लिए हैं जो सीबीएसई के बारे मे सब कुछ जानना चाहते हैं, इस आर्टिकल मे हम आपको सीबीएसई का फुल फॉर्म, इसका इतिहास, और अन्य प्रकार के जानकारी इस के माध्यम से देने जा रहे हैं । 

सीबीएसई की पूरी जानकारी के लिए इस आर्टिकल को ध्यान से पढ़े । 

CBSE का फुलफॉर्म क्या हैं?

सबसे पहले हम इसका फुल फॉर्म के बारे में जान लेते हैं, सीबीएसई का फुल फॉर्म – Central Board of Secondary Education होता है । 

CBSE क्या हैं?

सीबीएसई एक education board हैं, जो भारत सरकार के द्वारा private और government स्कूल से संबंधित है । ये एक माध्यमिक शिक्षा बोर्ड हैं जो केंद्र सरकार द्वारा संचालित होता है । 

सीबीएसई अलग अलग तरह के परीक्षा का आयोजित करता हैं, 10वी और 12वी के परीक्षा करवाता हैं । AIEEE  का आयोजित करता हैं, जिसके माध्यम से Engineering और Architecture में प्रवेश मिलता है। ये JEE के नाम से भी जाना जाता है । 

CBSE Full Form
CBSE Full Form

CBSE का इतिहास 

3 नवंबर, 1962 मे सीबीएसई की स्थापना हुई थी, ये सभी केंद्र विद्यालय, सभी जावा नवोदय विद्यालय, प्राइवेट तथा सरकारी स्कूल से संबंधित हैं । 

CBSE परीक्षा देने की criteria क्या हैं?

सीबीएसई हर साल 10वी और 12वी के लिए test का आयोजन करता हैं जिसे हम AISSE और AISSCE  के नाम से जानते हैं । हर साल सीबीएसई National Eligibility Test (NET) का आयोजित करता हैं ताकि teacher का चयन कर सके । 

  • जिन भी छात्रों ने सीबीएसई मे enroll किया हैं वो सभी इस परीक्षा को देने के योग्य हैं, सीबीएसई किसी प्रकार का भेदभाव नहीं करता, ना जाती, ना धर्म, ना रंग, अमीरी-गरीबी किसी भी तरह का भेदभाव नहीं करता । 
  • NET परीक्षा के लिए वो सभी छात्रों को परीक्षा देने का हक हैं जिन्होंने master degree complete किया हैं, 55% के ऊपर अगर किसी का छात्र का नंबर हैं, और किसी ugc के मान्य university और college से मान्यता प्राप्त हैं, तो आप परीक्षा देने के योग्य हैं । 

अन्य उपयोगी फुल फॉर्म विषय हिंदी में :-

  1. PIN Full Form
  2. UPI Full Form
CBSE का मुख्य उदेश्य 
  1. बच्चों को एक अच्छा और बेहतर शिक्षा प्रदान करना बिना किसी तरह के भेदभाव, तनाव, और गुणवत्ता का त्याग किए बिना । 
  2. education को बेहतर बनाना प्रतिपुष्टि के आधार पर । 
  3. राष्ट्रीय लक्ष्यों के अनुरूप स्कूली शिक्षा को बढ़ावा देने की योजना का सुझाव देना।
  4. CBSE के निर्देशों या दिशानिर्देशों संशोधित करना । 
  5. कौशल और पेशेवर क्षमता का आयोजित करना । 
  6. 10वीं और 12वीं कक्षा की अंतिम परीक्षा आयोजित करना है । 
CBSE स्कूल कहाँ मिलता हैं?

अगर बात करे की सीबीएसई की स्कूल कहाँ कहाँ मिलती हैं, तो हम देखते हैं भारत मे आज के समय हर जगह हर राज्य मे सीबीएसई स्कूल मिलती हैं, अगर बात करे की सबसे ज्यादा सीबीएसई स्कूल कहा मिलती हैं, तो केंद्र विद्यालय मे सीबीएसई बोर्ड का सबसे ज्यादा चलन हैं । 

भारत मे 20,290 सीबीएसई affiliate हैं, नोएडा और दिल्ली जैसे जगह पर सीबीएसई का education सबसे ज्यादा प्रचलित हैं । 

CBSE के फाइडे 
  • दूसरे अन्य board की तुलना मे सरल और आसान पथ्यकर्म । 
  • सीबीएसई board की संख्या ज्यादा होने की वजह स्कूलों को स्विच करना बहुत आसान बनाता है, खासकर जब छात्र को अलग राज्य में स्थानांतरित करना पड़ता है। 
  • सीबीएसई के छात्र दूसरे board की तुलना मे ज्यादा mark प्राप्त करते हैं । 
  • भारत मे ज्यादा तर  competitive exams सीबीएसई निर्धारित पाठ्यक्रम पर आधारित हैं।
  • CBSE के छात्रों पाठ्यक्रम के अल्वा बहुत सारे extra co-curricular activities करवा जाता हैं ।
  • CBSE अन्य राज्यों के बोर्ड के मुकाबले इंग्लिश मे ज्यादा प्रचलित हैं । 
  • सीबीएसई अच्छी और उचित शिक्षा प्रदान करते हैं।

CBSE और ICSE बोर्ड मे अंतर 

अगर बात करे की सीबीएसई और आईसीएसई मे अंतर क्या हैं । तो इसमे सबसे बड़ा अंतर हैं – सीबीएसई बोर्ड को सरकार ने certified किया हैं । मगर आईसीएसई बोर्ड को नहीं, मगर दोनों के certification को दुनिया भर मे ही मान्यता दी जाती हैं । 

अगर हम इसके syllabus की बात करे तो सीबीएसई अच्छा हैं क्योंकि सीबीएसई के base पर सभी compitative इग्ज़ैम होते हैं । आईसीएसई बोर्ड का syllabus वेदश मे पढ़ाई करने वाले छात्रों के लिए अच्छा होता हैं । 

Conclusion 

दोस्तों ये थी कुछ जरूरी बातें CBSE को लेकर, आशा हैं आपको पसंद आया होगा, अगर आपको किसी तरह का कोई समस्या आया हो तो comment जरूर करे । 

अगर आपको लगता हैं ये आर्टिकल आपके दोस्त या रिश्तेदार को लाभ पहुंचा सकता हैं तो इसे शेयर जरूर करे । जय हिन्द ।

अन्य उपयोगी फुल फॉर्म विषय हिंदी में :-

  1. NCB Full Form
  2. Full Form FIFA

Leave a Reply